झारखंड आंदोलन english

B. Jharkhand Andolan / झारखंड आंदोलन- 1. Sadan of Jharkhand / झारखंड के सदान | FREE GS2 Book Notes sample

English –

1. Sadan of Jharkhand (1 question)

Who are Sadans?

  • Sadans are native non-tribal people of Jharkhand.
  • The word Sadan means ‘people who settled here.’
  • From the point of view of language, Sadan are people whose native language is Khoratha, Nagpuri, Panchpargania or Kurmali. 
  •  In terms of religion, Hindu is a primitive Sadan.
  • Also, irrespective of religion if a person’s official language is Sadri, he is a Sadan.
  • Sadan is generally Aryan in racial terms, while some are Dravidavanshi or Agnayya.

 

Hindi – 

(क) झारखंड के सदान (1 question)

सदान कौन हैं?

  • सदान झारखंड के मूल गैर जनजातीय लोग हैं.
  • सदान शब्द का अर्थ है ‘ऐसे लोग जो यहां बसे हुए थे.’
  • भाषा की दृष्टि से जिसकी मौलिक रूप से भाषा खोरठा, नागपुरी, पंचपरगनिया और कुरमाली है, वही सदान है.
  • धर्म की दृष्टि से हिंदू ही प्राचीन सदान है.
  • इसके साथ किसी भी धर्म का हो अगर व्यक्ति की भाषा सादरी है, तो वह सदान है. 
  • प्रजातीय दृष्टि से सदान आर्य है. कुछ  द्रविड़वंशी  या आग्नेय भी हैं.

सदान  और आदिवासी में क्या अंतर है?

सदान  और आदिवासी में मूल अंतर है:

  • आदिवासी कबीलाई होते हैं, वही सदान  समुदाई होते हैं.
  • आदिवासी घुमंतू स्वभाव के होते हैं, जबकि सदान स्थाई निवास स्थान बनाते हैं. 

B. Jharkhand Andolan / झारखंड आंदोलन- 5. Jharkhand Movement & Formation / झारखंड आंदोलन एवं राज्य गठन | FREE GS2 Book Notes sample

5. Jharkhand Movement & Formation (2 questions)

5.1 Jharkhand Movement

Dhal Rebellion (1767-77)

  • *The British entered Jharkhand for the first time from Singhbhum-Manbhum.
  • The Chota Nagpur region came under the British rule in 1772.
  • The first rebellion against the British took place in this region.
  • The rebellion was led by Raja Jagannath Dhal.
  • This revolt lasted for 10 years.
  • Lieutenant Rooke and Charles Magn were sent by the English Company to suppress this rebellion, but they did not succeed.
  • The rebellion calmed down after the British company accepted Jagannath Dhal as king in 1777

 

(ङ) झारखंड आंदोलन एवं राज्य गठन (2 questions)

1. झारखंड आंदोलन

धल विद्रोह (1767-77)

  • ** झारखंड में अंग्रेजों का प्रवेश सर्वप्रथम  सिंहभूम- मानभूम की ओर से हुआ.
  • छोटानागपुर का क्षेत्र ब्रिटिश शासन के अंतर्गत लगभग 1772 मे आया था.
  • अंग्रेजों के विरुद्ध विद्रोह का प्रथम बिगुल इसी क्षेत्र में बजा.
  • विद्रोह का नेतृत्व राजा जगन्नाथ धाल ने किया.
  • यह विद्रोह 10 वर्षों तक चला.
  • अंग्रेजी के द्वारा इस उद्योग के दमन हेतु लेफ्टिनेंट रुक एवं  चार्ल्स मैगन को भेजा गया किंतु सफलता नहीं मिली.
  • 1777 में अंग्रेजी कंपनी के द्वारा जगन्नाथ धाल को राजा स्वीकार करने के पश्चात विद्रोह शांत हुआ.

B. Jharkhand Andolan / झारखंड आंदोलन- 4. Personalities from Different Fields / विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित व्यक्ति (विभूति) | FREE GS2 Book Notes sample

4. Personalities from Different Fields (2 questions)

4.1 Field of Education

Dr. Ram Dayal Munda: Ram Dayal Munda, former Rajya Sabha MP and Vice-Chancellor of Ranchi University, and first President of Tribal and Regional Language Department played an important role in the Jharkhand movement. Munda was the first person nominated for Rajya Sabha from Jharkhand. Indian Government awarded him the Padma Shri Award for Cultural Contribution in the year 2010.

Father Dr. Kamil Bulcke: Dr. Kamil Bulcke is remembered as a pillar of Hindi language literature. He first translated the Bible into Hindi. The English-Hindi word dictionary is one of his popular works. For his remarkable contribution in the field of writing, the Government of India decorated him with ‘Padam-Bhushan’.

** Dr. Manmasih Mundu: Dr. Mundu is the first person who wrote Mundari’s Dictionary “Mundari Dood” (मुंडारी डूड). Prepared the Kodhari (कोढ़ारी). He also received the Sahitya Akademi Award for Mundari Language and Literature for the year 1999. Apart from this, he also composed short M

 

(घ) विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित व्यक्ति (विभूति) (2 questions)

1. शिक्षा जगत

डॉ. रामदयाल मुंडा: राज्य सभा सांसद एवं रांची विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति, जनजातीय व क्षेत्रीय भाषा विभाग के प्रथम अध्यक्ष रामदयाल मुंडा ने झारखण्ड आन्दोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। झारखण्ड से राज्य सभा लिए मनोनित होने वाले मुंडा पहले व्यक्ति हैं। भारत सरकार इन्हें वर्ष 2010 में सांस्कृतिक योगदान हेतु पद्मश्री अवार्ड से नवाजा. 

फादर डॉ. कामिल बुल्के: डॉ. कामिल बुल्के हिन्दी भाषा साहित्य के स्तम्भ के रूप में याद किये जाते हैं. इन्होंने बाइबिल का हिन्दी में सर्वप्रथम अनुवाद किया. ‘अंग्रेजी-हिन्दी शब्द कोश’ उनकी एक लोकप्रिय कृति है. लेखन के क्षेत्र में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए भारत सरकार ने ‘पदम-भूषण’ से उन्हें अलंकृत किया.

डॉ. मनमसीह मुंडू: डॉ. मूंडू ऐसे पहले व्यक्ति हैं, जिन्होंने मुंडारी का शब्दकोश मुंडारी डूड. कोढ़ारी तैयार किया. मुंडारी भाषा एवं साहित्य के लिए वर्ष 1999 का साहित्य अकादमी पुरस्कार भी इन्हें मिला.इसके अलावा इन्होंने संक्षिप्त मुंडारी व्याकरण, मुंडारी – अंग्रेजी-हिन्दी शब्दकोश आदि की भी रचना की।.

** पंडित रघुनाथ मुर्मू: इन्होंने 1941 ई. में संथाल लिपि. . . . . . . 

B. Jharkhand Andolan / झारखंड आंदोलन- 3. National Movement and Freedom Fighter of Jharkhand / राष्ट्रीय आंदोलन एवं झारखंड के स्वतंत्रता सेनानी | FREE GS2 Book Notes sample

3. National Movement and Freedom Fighter of Jharkhand (1 question)

3.1 Revolt of 1857 and Jharkhand

The Revolt of 1857 in Jharkhand began on 12 June with a rebellion of soldiers in Rohini village of Deoghar district.

In this village, there was a 32m regiment of the army led by Major Macdonald. Whose three soldiers revolted and killed Lieutenant Norman Leslie.

The main centers of the revolt of 1857 were. . . . .

1. 1857 का विद्रोह और झारखंड

झारखंड में 1857 का विद्रोह 12 जून को देवघर जिले के रोहिणी गांव में सैनिकों के  विद्रोह के साथ प्रारंभ हुआ था. इस गांव में मेजर मैकडोनाल्ड के नेतृत्व में थल सेना की 32 मी रेजिमेंट थी. जिसके तीन सैनिकों विद्रोह कर लेफ्टिनेंट नॉर्मन लेस्ली की हत्या कर दी. 1857 के विद्रोह का मुख्य केंद्र हज़ारीबाग़, रांची, चुटुपालू की घाटी, चतरा, पलामू. . . . . 

B. Jharkhand Andolan / झारखंड आंदोलन- 2. Tribals of Jharkhand / झारखंड के आदिवासी | FREE GS2 Book Notes sample

English –

2. Tribals of Jharkhand (1 question)

  • Many tribes of Jharkhand are mentioned in Hindu mythological texts.
  • The tribes of Jharkhand are also called Adivasi, Aadim Jaati, Vanvasi, Girijan.
  • The word tribal means people living in the primitive period (आदि काल).
  • *All the tribes of Jharkhand are placed in the Proto-Australoid class.
  • According to the 2011 census, the total population of the state’s tribes is. . . . . .

Hindi – 

(ख) झारखंड के आदिवासी (1 question)

  • झारखंड की अनेक जनजातियों का उल्लेख हिंदू पौराणिक  ग्रंथों में मिलता है. 
  • झारखंड की जनजातियों को आदिवासी ,आदिम जाति ,वनवासी ,गिरिजन जैसे नामों से पुकारा जाता है.
  • आदिवासी शब्द का अर्थ आदि काल में रहने वाले लोग.
  • ** झारखंड की सभी जनजातियों को  प्रोटो आस्ट्रेलायड्रस वर्ग में रखा गया है.
  • 2011 की जनगणना के अनुसार राज्य की जनजाति. . . . . . 
Shopping Cart