jpsc hindi book online

A. Jharkhand History / झारखंड का इतिहास- 7. Ethnic Panchayat Governance / जातीय पंचायत शासन व्यवस्था | FREE GS2 Book Notes sample

English –

7. Ethnic Panchayat Governance (2 questions)

All tribal primitive tribes or Sadans have their own ethnic panchayat in their own name. They settle matters of their caste in the ethnic panchayat. Inter-caste matters are decided in the inter-caste

Hindi – 

(छ) जातीय पंचायत शासन व्यवस्था (2 questions) 

सभी आदिवासी आदिम जनजाति या सदानों की अपनी-अपनी जातीय पंचायत अपने-अपने नाम से होती है. वे अपनी जाति के मामलों का निपटारा जातीय पंचायत में करते हैं. अंतरजातीय मामलों का फैसला अंतरजातीय पंचायत में होता है। 

B. Jharkhand Andolan / झारखंड आंदोलन- 1. Sadan of Jharkhand / झारखंड के सदान | FREE GS2 Book Notes sample

English –

1. Sadan of Jharkhand (1 question)

Who are Sadans?

  • Sadans are native non-tribal people of Jharkhand.
  • The word Sadan means ‘people who settled here.’
  • From the point of view of language, Sadan are people whose native language is Khoratha, Nagpuri, Panchpargania or Kurmali. 
  •  In terms of religion, Hindu is a primitive Sadan.
  • Also, irrespective of religion if a person’s official language is Sadri, he is a Sadan.
  • Sadan is generally Aryan in racial terms, while some are Dravidavanshi or Agnayya.

 

Hindi – 

(क) झारखंड के सदान (1 question)

सदान कौन हैं?

  • सदान झारखंड के मूल गैर जनजातीय लोग हैं.
  • सदान शब्द का अर्थ है ‘ऐसे लोग जो यहां बसे हुए थे.’
  • भाषा की दृष्टि से जिसकी मौलिक रूप से भाषा खोरठा, नागपुरी, पंचपरगनिया और कुरमाली है, वही सदान है.
  • धर्म की दृष्टि से हिंदू ही प्राचीन सदान है.
  • इसके साथ किसी भी धर्म का हो अगर व्यक्ति की भाषा सादरी है, तो वह सदान है. 
  • प्रजातीय दृष्टि से सदान आर्य है. कुछ  द्रविड़वंशी  या आग्नेय भी हैं.

सदान  और आदिवासी में क्या अंतर है?

सदान  और आदिवासी में मूल अंतर है:

  • आदिवासी कबीलाई होते हैं, वही सदान  समुदाई होते हैं.
  • आदिवासी घुमंतू स्वभाव के होते हैं, जबकि सदान स्थाई निवास स्थान बनाते हैं. 

A. Jharkhand History / झारखंड का इतिहास- 5. Munda Standard Governance System Or Traditional Governance Of ‘Ho’ Society People / मुण्डा मानकी शासन व्यवस्था या ‘हो’ लोगों की पारंपरिक शासन व्यवस्था | FREE GS2 Book Notes sample

English –

5. Munda Standard Governance System Or Traditional Governance Of ‘Ho’ Society People (1 question)

The ‘Ho’ society is the third branch of the Mundas. Munda language is similar to that of ‘Ho’ but there are few differences between their culture and self-government system. While the Parha Panchayat of the Mundas is similar to that of the Oraons, the self-governance system of the ‘Ho’ people has traditionally remained the same till date

Hindi – 

(ङ) मुण्डा मानकी शासन व्यवस्था या ‘हो’ लोगों की पारंपरिक शासन व्यवस्था (1 question)

 ‘हो’ समाज भी मुण्डाओं की ही एक तीसरी शाखा है. मुण्डा भाषा से ‘हो’ मिलती है परन्तु संस्कृति और स्वशासन व्यवस्था में किंचित भिन्नता है। जहां मुण्डाओं की पड़हा पंचायत बहुत कुछ उरांवों से मिलती है, ‘हो’ लोगों की स्वशासन व्यवस्था पारंपरिक रूप

A. Jharkhand History / झारखंड का इतिहास- 6. Dhoklo Sohor Governance System or Khadia Samaj Traditional Self-government System / ढोकलो सोहोर शासन व्यवस्था या खड़िया समाज पारंपरिक स्वशासन व्यवस्था | FREE GS2 Book Notes sample

English –

6. Dhoklo Sohor Governance System or Khadia Samaj Traditional Self-government System (1 question)

 Khadia society is also a branch of the Mundas. There are three types of Khadias 

  1. Doodh Khadia
  2. Ulki Khadia
  3. Pahadi Khadia or Shabar Khadia

There are few differences in the names of various designations in the self-government system of

Hindi – 

(च) ढोकलो सोहोर शासन व्यवस्था या खड़िया समाज पारंपरिक स्वशासन व्यवस्था 

खड़िया समाज भी मुण्डाओं की एक शाखा है. खड़िया तीन प्रकार के हैं: 

  1. दूध खड़िया 
  2. उलकी खड़िया 
  3. पहाड़ी खड़िया या शबर खड़िया 

खड़िया समाजों की स्व-शासन प्रणाली में विभिन्न पदनामों के नाम में कुछ अंतर हैं। खड़िया समाजों की मूल स्वशासन प्रणाली समान है। पहाड़ी खड़िया की 

General Studies 1 (GS1) H. General Questions of Miscellaneous nature, not requiring subject specialization / विविध प्रकृति के सामान्य प्रश्न जिनमें विषयगत विशेषज्ञता की आवश्यकता नहीं | FREE GS2 Book Notes sample

H. General Questions of Miscellaneous nature, not requiring subject specialization (15 Questions) 

1. Some Important Questions on Human Rights 

The protection of Human Rights Act in India was enacted in the year –  

1993

Which one of the following categories of Fundamental Rights incorporates ‘Abolition of Untouchability’? 

Right to Equality

Who introduced the concept of third generation Human Rights? 

Karel Vasak

The Universal Declaration of Human Rights was adopted on …… 

December 10, 1948

Which Article of the Third Geneva Convention of 1949 defines the prisoners of War?  

Article 4

 

H. विविध प्रकृति के सामान्य प्रश्न जिनमें विषयगत विशेषज्ञता की आवश्यकता नहीं (15 Questions)

1. मानवाधिकार पर कुछ महत्वपूर्ण सवाल 

भारत में वर्ष में मानव अधिकारों का संरक्षण अधिनियम बनाया गया था? 

1993

फंडामेंटल राइट्स की निम्नलिखित श्रेणियों में से कौन सी ‘अस्पृश्यता का उन्मूलन’ शामिल है?

समानता का अधिकार

तीसरी पीढ़ी के मानव अधिकारों की अवधारणा किसने पेश की?

कारेल वासक

मानव अधिकारों की सार्वभौमिक घोषणा को कब अपनाया गया था?

10 दिसंबर, 1948

 

General Studies 1 (GS1) C. Indian Polity and Governance / भारतीय राजनीति और शासन- 1. Constitution of India / भारतीय संविधान | FREE GS2 Book Notes sample

1. Constitution of India 

Few Important Questions Part 1

Which party had a government in England at the time of India’s independence?

Labor party

The post of secretary in India was created by ____________.

Government of India Act 1858

According to whom the Constituent Assembly of India was formed?

Under Cabinet Mission Plan

Who designed the Constituent Assembly?

Jawaharlal Nehru

 

1. भारतीय संविधान (4 questions)

कुछ महत्वपूर्ण  प्रश्नोत्तर Part 1

भारत की आजादी के समय इंग्लैंड में किस पार्टी की सरकार थी?

लेबर पार्टी 

भारत में सचिव का पद किसके द्वारा निर्मित किया गया था?

भारत सरकार अधिनियम 1858 

भारत की संविधान सभा किसके अनुसार गठित की गई थी?

कैबिनेट मिशन योजना के तहत

संविधान सभा को किसने  स्वरूप प्रदान किया था?

ज्वाला नेहरू

General Studies 1 (GS1) C. Indian Polity and Governance / भारतीय राजनीति और शासन- 2. Public Administration and good governance / लोक प्रशासन और सुशासन | FREE GS2 Book Notes sample

2. Public Administration and good governance

2.1.a President of India

(1) Article 52  

There shall be a President of India

(2) Article 53 

The Executive power of the Union: The executive power shall be vested in the President and……………………………….

 

2.1 संघीय संसद और कार्यकारी

2.1.a भारत के राष्ट्रपति 

अनुच्छेद 52 

भारत का राष्ट्रपति होगा

अनुच्छेद 53

संघ की कार्यकारी शक्ति: कार्यकारी शक्ति राष्ट्रपति में निहित होगी और उनके द्वारा या तो सीधे या………………………………..

राष्ट्रपति भारत में रक्षा बलों के सर्वोच्च कमांडर हैं, हालाँकि वह केवल संवैधानिक प्रमुख, या टाइटुलर प्रमुख, डे ज्यूर प्रमुख या ………………………………..

** राष्ट्रपति का चुनाव

संसद के सदस्यों द्वारा राष्ट्रपति का चुनाव किया जाएगा

 

 

 

 

 

 

 

  • निर्वाचित सांसदों
  • राज्यों के निर्वाचित विधायक
  • दिल्ली के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के निर्वाचित विधायक (70 वें संशोधन अधिनियम,  1992 द्वारा और 1-06-1995 से प्रभावी) और पुडुचेरी के केंद्र शासित प्रदेश।
  • चुनाव एकल हस्तांतरणीय वोट के माध्यम से आनुपातिक प्रतिनिधित्व की प्रणाली के अनुसार आयोजित किया जाता है और मतदान गुप्त मतदान द्वारा किया जाता है।
  • ** राष्ट्रपति चुनावों को लेकर उत्पन्न सभी शंकाओं और विवादों पर निर्णय लिया जाता है और….
  • General Studies 1 (GS1) D. Economic and Sustainable Development / आर्थिक और सतत विकास – 1. Basic Features of Indian Economy / भारतीय अर्थव्यवस्था की विशेषताएँ | FREE GS2 Book Notes sample

    1. Basic Features of Indian Economy (4 questions) [Highlighted in syllabus above]

    1.1 Economics

    What is Economics?

    Economics is a social science concerned with the production, distribution, and consumption of goods and services. It studies how individuals, businesses, governments, and nations make choices on allocating resources to satisfy their wants and needs, trying to determine how these groups should organize and coordinate efforts to achieve maximum output.

    Types of Economics

     A. Microeconomics 
     B. Macroeconomics

     

    1.1 अर्थशास्त्र

     अर्थशास्त्र  क्या है?

    अर्थशास्त्र एक सामाजिक विज्ञान है जो वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन, वितरण और खपत से संबंधित है। यह अध्ययन करता है कि व्यक्तियों, व्यवसायों, सरकारों और राष्ट्रों ने अपनी इच्छा और……………………………….. 

     अर्थशास्त्र  के प्रकार

  • व्यष्टि अर्थशास्त्र
  • समष्टि अर्थशास्त्र
  •  आर्थिक  प्रणाली के  प्रकार

    • पारंपरिक आर्थिक प्रणाली / Traditional economic system
    • कमान आर्थिक प्रणाली / Command economic system
    • ………………………………..
    • ………………………………..
    • ………………………………..

    General Studies 1 (GS1) C. Indian Polity and Governance / भारतीय राजनीति और शासन- 3. Decentralization: Panchayats and Municipalities / विकेंद्रीकरण: पंचायतें और नगर पालिकाएँ | FREE GS2 Book Notes sample

    3. Decentralization: Panchayats and Municipalities (2 questions) [Highlighted in syllabus above]

    Various committees on Panchayati Raj

    • Balwant Rai Mehta: established 1957
    • V.T.Krishnamachari : 1960
    • Santhanam Committee: 1963
    • Takhatmal Jain Study Group: 1966
    • Ashok Mehta Committee: 1977
    • G.V.K. Rao Committee: 1985
    • Dr. L.M. Singhvi Committee: 1986
    • P. K. Thoongan committee: 1988

     

     3. विकेंद्रीकरण: पंचायतें और नगर पालिकाएँ (2 questions)

    पंचायती राज पर विभिन्न समितियाँ

    • बलवंत राय मेहता: 1957 में स्थापित     
    • वी. टी. कृष्णमाचारी: 1960     
    • संथानम समिति: 1963     
    • तखतमल जैन अध्ययन समूह: 1966   
    • अशोक मेहता समिति: 1977     
    • जीवीके राव समिति: 1985     
    • डॉ। एलएम सिंघवी समिति: 1986     
    • पी थोओंगन समिति: 1988 

    General Studies 1 (GS1) D. Economic and Sustainable Development / आर्थिक और सतत विकास – 2. Sustainable Development And Economic Issues / सतत विकास और आर्थिक मुद्दे | FREE GS2 Book Notes sample

    2. Sustainable Development And Economic Issues (4 questions) 

    2.1 Indian Finance System 

    Money Market

    • It is used for short-term credit.
    • Generally, we use it for borrowing and lending of money up to 1 year.
    • It includes Reserve Bank of India,………………………………..
    • ………………………………..
    • ………………………………..
    • ……………………………….. 

    Capital Market

    • It is used for long-term credit.
    • Generally, we use it for borrowing and lending of money above 1 year.
    • It includes Stock exchanges, Housing finance companies, Insurance companies etc.
    • All the institutions listed in the capital market are called Non-banking financial companies (NBFCs). But it is.

     

    2. सतत विकास और आर्थिक मुद्दे (4 questions)

    2.1. भारतीय वित्त प्रणाली

    • भारतीय वित्त प्रणाली एक ऐसी व्यवस्था से है जिसमें व्यक्तियों, वित्तीय संस्थाओं, बैंकों, औद्योगिक कम्पनिओं तथा सरकार द्वारा वित्त की माँग होती है तथा इसकी पूर्ति की जाती है।
    • भारतीय वित्त प्रणाली के दो पक्ष है- पहला माँग पक्ष तथा दूसरा पूर्ति पक्ष।
    • माँग पक्ष का प्रतिनिधित्व व्यत्तिगत निवेशक, औद्योगिक तथा व्यापारिक कम्पनिओं, सरकर आदि करते है, जबकि पूर्ति पक्ष का प्रतिनिधित्व बैंक, बिमा कंपनी, म्यूच्यूअल फण्ड, तथा अन्य वित्तीय संस्थाएं करती है। 
    • वित्तीय प्रणाली के घटक: एक वित्तीय प्रणाली का अर्थ उस प्रणाली से है जो निवेशकों और उधारकर्ताओं के बीच पैसे के हस्तांतरण को सक्षम बनाती है। एक वित्तीय प्रणाली को एक अंतरराष्ट्रीय, क्षेत्रीय या संगठनात्मक स्तर पर परिभाषित किया जा सकता है।  “वित्तीय प्रणाली” में “प्रणाली” शब्द एक जटिल समूह को संदर्भित करता है और अर्थव्यवस्था के अंदर संस्थानों, एजेंटों, प्रक्रियाओं, बाजारों, लेनदेन, दावों से नजदीकी रूप से जुडा होता है। वित्तीय प्रणाली के पांच घटक हैं, जिनका विवरण निम्नवत् है:
    • वित्तीय संस्थान: यह निवेशकों और बचत कर्ताओं को मिलाकर वित्तीय प्रणाली को गतिमान बनाये रखते हैं। इस संस्थानों का मुख्य कार्य बचत कर्ताओं से मुद्रा इकठ्ठा करके उन निवेशकों को उधार देना है जो कि उस मुद्रा को बाजार में निवेश कर लाभ कमाना चाहते है अतः ये वित्तीय संस्थान उधार देने वालों और उधार लेने वालों के बीच मध्यस्थ की भूमिका निभाते हैं I इस संस्थानों के उदहारण हैं :- बैंक, गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थान, स्वयं सहायता समूह, मर्चेंट बैंकर इत्यादि हैं I

     

    Shopping Cart